Lok Sabha Election 2024: एक्टिंग के बाद राजनीति में किस्मत आजमाने वाले सितारे जो ‘रामायण’ और ‘महाभारत’ में कर चुके हैं काम!

Lok Sabha Election 2024: लोक सभा चुनाव का बिगुल ब्याज चुका है और सभी राजनीतिक पार्टियां अब अपने-अपने पक्ष को मजबूत करने में जुटी हुई है जिसके लिए सभी पार्टियां चर्चा में बने रहने के लिए कई बॉलीवुड तथा फिल्मी सितारों को अपने पार्टी की सदस्यता दिला कर मैदान में खड़ा कर रही है।

राजनीति और मनोरंजन वैसे तो 2 अलग-अलग कार्य है परंतु कुछ ऐसे राजनेता भी हुए है जो फिल्मों से राजनीति में आए और बाद में उनकी राजनीति चमक गई। तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री M. G. Ramachandran और जे. जयललिता इस बात के साक्षी हैं। फिल्मों के कई ऐसे दिग्गज हैं जो फिल्मी दुनिया में तो बहुत ही मशहूर हैं पर राजनीति में ज्यादा खास प्रदर्शन नहीं कर पाए, अमिताब बच्चन इस बात के उदाहरण हैं।

Lok Sabha Election 2024: चुनाव के चलते आ रहे हैं दिग्गज!

चूँकि अभी 2024 आम चुनाव जा समय चल रहा है और सभी पार्टियां चुनाव के प्रचार और अपने पार्टी को मजबूत करने में लगे हुए हैं इसलिए इस साल भी कई फिल्मी दुनिया के सितारों ने राजनीति का हाथ थाम लिया है। ‘क्वीन’ कंगना रनौत से लेकर रमानंद सागर की ‘रामायण’ के ‘राम’ अरुण गोविल ने भी इस साल भाजपा का दामन थाम लिया है।

हलाकी यह सिलसिला कोई नया नहीं बल्कि लंबे समय से चलता आ रहा है किसी की राजनीति चमक जाती है तो वहीं किसी को राजनीति उतनी रास नहीं आती। आईए जानते हैं उन सितारों के बारे में जिन्होंने फिल्मी दुनिया से राजनीति की दुनिया तक का सफर तय किया-

गजेन्द्र चौहान

बी. आर. चोपड़ा कि प्रसिद्ध और कालजयी ‘महाभारत में ‘युधिष्ठिर’ का किरदार निभाने वाले गजेन्द्र चौहान ने अपने फिल्मी करियर को ब्रेक देकर 2004 में भाजपा में शामिल होकर राजनीति में एंट्री ली थी।

अरविंद त्रिवेदी

रमानंद सागर की रामायण में ‘रावण’ किरदार निभाने वाले अरविंद त्रिवेदी ने भी अपने फिल्मी करियर से राजनीतिक सफर की शुरुआत भाजपा में शामिल होकर की और 1991-1996 के दौरान गुजरात के साबरकांठा से लोकसभा के लिए चुने गए थे।

दारा सिंह

रामानंद सागर की ‘रामायण’ से राजनीति ज्वाइन करने वालों की लिस्ट में एक नाम दारा सिंह जी का भी था, उन्होंने साल 1998 में भारतीय जनता पार्टी का दामन थामा था और वह राज्यसभा सांसद बनने वाले पहले स्पोर्ट्सपर्सन थे। 2003 से 2009 तक वे सांसद थे और वे जाट महासभा के अध्यक्ष भी थे। दारा सिंह ने रामायण में महाबली हनुमान की भूमिका निभाई थी।

स्मृति ईरानी

वर्तमान में भारतीय जनता पार्टी की प्रखर नेता और केन्द्रीय मंत्री ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ की टेलीविजन शो में तुलसी का किरदार निभाती थी। स्मृति ईरानी ने ‘तुलसी’ के किरदार में घर घर में अपनी पहचान बनाई। ऐक्टिंग में करियर बनाने के बाद उन्होंने साल 2003 में भारतीय जनता पार्टी का हाथ थामा।

दीपिका चिखलिया

दीपिका चिखलिया, जिन्होंने पहले रामानंद सागर की ‘रामायण’ में माता सीता का किरदार अदा किया था, उन्होंने अपने सफल एक्टिंग करियर के बाद राजनीति का मार्ग अपनाया था। 1991 में वह बड़ौदा से भारतीय जनता पार्टी की उम्मीदवार के रूप में लोकसभा सांसद बनी थीं।

अरुण गोविल

अरुण गोविल ने ‘रामायण’ में श्रीराम का किरदार अदा किया था, जिससे उन्हें लाखों लोगों का प्यार मिला। वे अब राजनीति में कदम रखने जा रहे हैं और भाजपा से मेरठ से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं। उन्होंने हाल ही में भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल होने की घोषणा की थी और मेरठ से लोकसभा चुनाव लड़ने का निर्णय लिया था। अरुण गोविल ने मेरठ से भाजपा प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन दाखिल कर दिया है।

रूपा गांगुली

रूपा गांगुली ने बी आर चोपड़ा की महाभारत में द्रौपदी का किरदार निभाया था। उन्होंने टीवी और बॉलीवुड दोनों में अपना नाम किया। 2015 में उन्होंने राजनीति में कदम रखा और भारतीय जनता पार्टी से शामिल हो गईं। 2016 में उन्होंने पश्चिम बंगाल के हावड़ा से चुनाव लड़ा, लेकिन वह हार गईं। बाद में उन्हें राज्यसभा सांसद बनाया गया।

Leave a Comment